Indian history study material Source of Ancient

History and Geography 1 Comment

We are write the Indian history related some topic with details and also write the some impotent  Question answer .because number of question ask in all competitive exam and other exam like IAS RAS and state level exam centre level exam. So now we are write the brief details and impotent points of Indian history and with related question ask in SSC railway 1st 2nd 3rd grade IAS RAS delhi rajasthan police exams

Indian history study material

अब तक जो प्राचीन चिह्न (symbol ) भारत (India) में मिले हैं वे 4,00,000 ई. पू. और 2,00,000 ई. पू. के बीच के  हैं और वे उस समय (time) पत्थर के उपकरण काम में लाए जाते थे. जीवित मानवीय के जीन्स , सूत्रों के आधार  पर भारत (India) में मानव का पहला प्रमाण केरल (Kerala) मिला था. जो 70,000 year सत्तर हज़ार साल पुराना है। इस व्यक्ति के जीन्स ( genes ) अफ़्रीक़ा के प्राचीन मानव के जीन्स से मिलते हैं, इसके बाद लम्बे समय तक विकास धीरे धीरे गति से होता रहा .

इसके बाद 2300 ई. पू  के आस पास (Indus Valley) सिन्धु घाटी की सभ्यता और हड़प्पा (Harappa) संस्कृति के रूप में हुई. हड़प्पा की संस्कृतियाँ हैं ,  बलूचिस्तानी पहाड़ियों के गाँवों villages की संस्कृति और राजस्थान और पंजाब (Punjab) की नदियों के किनारे बसे ग्राम समुदायों की  संस्कृति. यह काल समय (time) तब का  है जब अफ़्रीक़ा के मानव ने विश्व के Different – different  विभिन्न -विभिन्न अनेक हिस्सों में बसना शुरू start किया. और जो  सूत्रों के आधार  (Base) पर  70.000 सत्तर हज़ार साल पहले का माना जाता है

harappan civilization gkshort-history
harappan civilization gkshort-history

 

प्राचीन (Indian ) भारतीय इतिहास के स्रोत Source of Ancient Indian History

Indian History भारतीय इतिहास जानने के स्रोत को विभिन्न -विभिन्न तीन हिस्से में अलग किया जा सकता हैं-

1. साहित्यिक साक्ष्य  (Literary Evidence)

2. विदेशी यात्रियों का विवरण  (Details of foreign travelers)

3. पुरातत्त्व सम्बन्धी साक्ष्य (Archaeological evidence related)

 

Indian-History-Study-Materi
Indian-History-Study-Materi

 

 

 

Share with your friends and write your comments
इस पोस्ट को देख कर अपना कमेन्ट अवश्य लिखें

 

 

  • yogesh kumar

    thanks sir very good work